Health Lover

Healthlover: Get Health Related Information in Hindi

खांसी की दवा और आयुर्वेदिक नुस्खे ( Khansi Ki Dawa Or Ayurvedic Nuskhe )

खांसी की दवा लेख मैं आज हम पढ़ेंगे की खांसी बिल्कुल एक आम बीमारी है | जो कि किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकती है | खांसी की दवा लेने से पहले हमें यह जानना होगा की खांसी किस प्रकार की है | क्योंकि हम सभी जानते हैं कि खांसी दो प्रकार की होती है एक सूखी खांसी और एक बलगम वाली खांसी |  सूखी खांसी की दवा अलग होती है और बलगम वाली खांसी की दवा अलग होती है | इसलिए हमें दवाई लेने से पहले यह जानना होगा कि हमें किस प्रकार की खांसी है | तो आइए आज हम बात करते हैं खांसी की दवा के बारे में |

 

खांसी की दवा लेने से पहले यह जान ले कि आप कौन सी खासी की दवाई ले रहे हैं |  क्योंकि अगर आपको बलगम वाली खांसी है तो आपको थूक और बलगम खांसी के साथ बहुत आता है | इसके लिए बलगम वाली खांसी की दवाई ले |  और अगर आपको बलगम वाली खांसी नहीं है सिर्फ सूखी खांसी है जिससे आपको अपने गले में खराश महसूस हो रही है और कुछ अटकने जैसा महसूस हो रहा है |  इसमें आप सुखी खांसी की दवा ले |

खांसी की दवा और आयुर्वेदिक नुस्खे

( Khansi Ki Dawa Or Ayurvedic Nuskhe )

खांसी एक बिल्कुल आम सी बीमारी है | जो कि किसी भी उम्र के व्यक्तियों को हो सकती है चाहे वह बड़ी उम्र वाले व्यक्ति हो या फिर बच्चे हो | यह गले की बीमारी है जो छाती में जमा कफ, फेफड़ों, सांस की नली, और गले में इन्फेक्शन के कारण होती है | अगर हमें खांसी हो जाए तो हम बाजार से जाकर खांसी की दवा लेते हैं |  और उस खांसी की दवा से हमारी खांसी ठीक भी हो जाती है | लेकिन आज हम बात करने जा रहे हैं खासी के कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में जिनसे आपका घर पर ही खांसी का उपचार किया जा सकता है | तो आइए बात करते हैं घरेलू खांसी की दवा के बारे में |

 

खांसी होने के कारण

  • धूम्रपान ज्यादा करना |
  • धूल मिट्टी के संपर्क आदि में अधिक रहना |
  • गले में कैंसर |
  • फेफड़ों में कैंसर |
  • टी बी, अस्थमा या कोई गंभीर रोग से प्रभावित होना |

 

खांसी की दवा और आयुर्वेदिक नुस्खे  

  1. अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा अपने मुंह में रखें, इसे थोड़ी देर बाद आपको खांसी होने बंद हो जाएगी |
  2. अनार के रस को हल्का सा गर्म यानी गुनगुना करके इसका सेवन करने से भी खांसी दूर होती है |
  3. अगर आपको बहुत तेज खांसी है तो शायद दवा से भी ज्यादा असरदार काम करता है | बच्चों और बड़ों दोनों के लिए उपाय बहुत फायदेमंद है | इसके लिए आपको दिन में तीन बार एक एक चम्मच शहद का सेवन करना होगा | और अगर आपको रात को सोते समय खांसी आती है तो होने से पहले एक चम्मच शहद का सेवन जरूर करें |
  4. अगर आपको सुखी खासी है तो एक चौथाई चम्मच दालचीनी पाउडर आधा चम्मच शहद में मिलाकर सेवन करने से  सूखी खांसी ठीक हो जाती है |
  5. अगर आपको रात को बार बार खांसी आती है तो वे लोग रखकर इसे चबायेकुछ देर में आपकी खांसी बंद हो जाएगी | तुलसी की चाय के सेवन करने से भी खांसी को रोकने में काफी आराम मिलता है |
  6. अगर आप को गले में बलगम महसूस हो रहा है तो गुनगुना पानी पिए |  इससे बलगम भी साफ हो जाती है और गले की सूजन से भी आराम मिलता है |
  7. आधा चम्मच शहद और आधा चम्मच प्याज के रस को मिलाकर इसका सेवन करें यह एक बहुत ही बढ़िया और आसान घरेलू खांसी की दवा है |
  8. अगर आपकी खांसी से छुटकारा पाना चाहते हैं तो इसके लिए तुलसी, अदरक और काली मिर्च से बना हुआ काढा पिए | और देसी घी से बना हुआ बेसन का हलवा खाने से भी सूखी खांसी दूर हो जाती है |

 

घरेलू खांसी की दवा

हल्दी जो कि हर एक घर में पाई जाती है | और शायद आप लोग नहीं जानते होंगे कि हल्दी गुणों का खजाना होती है | हल्दी में बहुत सारे एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरस गुण पाए जाते हैं, इसलिए हल्दी वायरल इनफेक्शन को कम करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है | एक चम्मच हल्दी को अजवाइन के साथ मिलाकर वाले और एक गिलास पानी में डाल दे |  और फिर इस मिश्रण को तब तक बने जब तक पानी आधा न रह जाए | इसके बाद इसमें थोड़ा सा शहद मिला लीजिए, इस मिश्रण का दिन में तीन बार सेवन जरूर करें इसे आप की खांसी दूर हो जाएगी |

 

बलगम वाली खांसी को दूर करने के घरेलू उपाय

अगर आपको आपके गले में और छाती में कफ जमने से गले में खराश महसूस हो या फिर आपका गला बैठ जाए और  आपको बलगम की शिकायत होने लगती है | तो आपको छोटे-छोटे घरेलू नुस्खे अपनाकर आसानी से बलगम वाली खांसी का उपचार कर सकते हैं |  तो आइए जानते हैं बलगम वाली खांसी को दूर करने के घरेलू उपाय के बारे में |

  • गर्म दूध पीने से भी बलगम मैं काफी रात मिलती है |
  • अदरक को छीलकर और उसका एक छोटा सा टुकड़ा अपने मुंह में रख कर चूसने से बलगम निकलने लगती है और गला साफ हो जाता है |
  • मुलेठी और सूखा आंवला पीसकर उसका एक चूर्ण बना ले | छाती में जमा बलगम साफ करने के लिए इसका एक चम्मच सुबह शाम खाली पेट लीजिए | और अगर आप के गले में छाले हो रहे हैं तो इस चूर्ण में मात्रा में मिश्री मिला लें |  अब आप 6 ग्राम चूर्ण 250 ग्राम दूध के साथ लेने से गले के छालों में भी जल्द ही आपको आराम मिलने लगता है |

 

खांसी के उपचार में परहेज

जैसा कि हम सभी जानते ही हैं | की किसी भी रोग का उपचार करने के लिए सिर्फ दवा ही काफी नहीं होती बल्कि उसके लिए नियमित परहेज भी रखने बढ़ते हैं |  हमें खांसी के उपचार करने के लिए खांसी की दवा के साथ साथ परहेज भी रखने पड़ेंगे | तो आइए जानते हैं खांसी के उपचार में क्या क्या परहेज होते हैं

  • दही, केला और चावल का सेवन ना करें |
  • तला हुआ और मसालेदार भोजन करने से परहेज करें |
  • कोल्ड ड्रिंक, ठंडा पानी और फ्रिज में रखी चीजें खाने से भी बचे |
  • कुछ भी गर्म चीज खाकर तुरंत ही कोई ठंडी चीज खाएं और ना ही पिए |

जाने :- दारू पीने के फायदे और नुकसान क्या होते हैं

जाने :- पेट साफ करने की दवा और घरेलू नुस्खे

तो दोस्तो आज हमने बात की है खांसी की दवा और घरेलू नुस्खों के बारे में |  अगर आपके पास इस लेख से जुड़ी कोई भी जानकारी है या फिर आपके मन में इस से संबंधित कोई भी सवाल है तो हमें टिप्पणी करके जरूर बताएं | और अगर हमारा लेख पसंद आया हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर जरूर करें |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Health Lover © 2018