Health Lover

Healthlover: Get Health Related Information in Hindi

हल्दी के फायदे और आयुर्वेदिक गुण ( Haldi Ke Fayde )

हल्दी एक ऐसी जड़ी बूटी है जो कि हर घर की रसोई में उपलब्ध होती है | इस जड़ी बूटी को हम मसालों की रानी के नाम से भी जानते हैं | हल्दी के फायदे में सबसे आम बात तो यह है कि यह हमारे खाने को स्वादिष्ट बना देती है | और अगर हम खाने के अलावा हल्दी के फायदे के बारे में बात करें तो इसकी लिस्ट काफी लंबी हो जाएगी | क्योंकि हल्दी के फायदे खाने में ही नहीं पीने के साथ भी मिलते हैं | जैसे कि हम दूध में हल्दी मिलाकर पीते हैं जब हमें ठंड लग जाती है या फिर कोई वायरल हो जाता है | तो चलिए चर्चा करते हैं हल्दी के फायदे के बारे में |

 

हल्दी एंटी ऑक्सीडेंट, एंटीवायरल, एंटीबायोटिक ,एंटीफंगल और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होती है | हल्दी के फायदे को देखते हुए इसे हमारे जीवन काल में काफी महत्वपूर्ण बताया जाता है | हल्दी के फायदे और भी बहुत सारे होते हैं जैसे हल्दी से सूजन कम होती है मैं घाव जल्दी भर जाते हैं | यह बात तो आप सभी को पता ही होगी जब हमें चोट लग जाती है तो हमें हमारी मा या दादी मां दूध में हल्दी डालकर पिलाती है | ताकि हमारी चोट जल्दी ठीक हो जाए | क्योंकि उन्हें हल्दी के फायदे के बारे में अच्छे से पता होता है |

 

हल्दी के फायदे और आयुर्वेदिक गुण

( Haldi Ke Fayde )

Haldi Ke Fayde

जैसा की हमने बात की है कि हल्दी काफी अधिक फायदेमंद होती है और इसमें आयुर्वेदिक गुण भी बहुत ज्यादा होते हैं | इस सभी के साथ हल्दी में प्रोटीन, फाइबर, नियासिन, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन के, पोटैशियम, कैल्शियम, तांबे, आयरन, मैग्नीशियम, और जैसे पोषक तत्वों से भरपूर है | तभी तो कहा जाता है हल्दी एक और हल्दी के फायदे अनेक ,  हल्दी सूजन, घाव, त्वचा के स्वस्थ और मासिक धर्म की परेशानियों को कम करने में भी मदद करती है | हल्दी के फायदे के अनुसार यह अवसाद, दर्द, बुढापे के लक्षण, पाचन तंत्र, और कैंसर को रोकने में भी मदद करती है | तो चलिए हम हल्दी के फायदे के बारे में और ज्यादा जानकारी प्राप्त करते हैं | Haldi Ke Fayde

हल्दी के फायदे

  • हल्दी मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद करती है |
  • हल्दी हमारे कोलेस्ट्रोल को कम करने में भी फायदेमंद है |
  • हल्दी वाला दूध पीने से हमारे शरीर के इम्यूनिटी बढ़ती है |
  • हल्दी का सेवन करने से हमारे शरीर के घाव जल्दी भरने लग जाते हैं |
  • वजन को नियंत्रित करने के लिए भी हल्दी काफी फायदेमंद होती है |
  • अल्जाइमर रोग से बचाने के लिए भी हल्दी काफी फायदेमंद साबित हुई है |
  • अगर हमें हमारे पाचन को बेहतर बनाना है तो हमें हल्दी का सेवन करना चाहिए |
  • लीवर के संरक्षण का लाभ उठाने के लिए भी हमें हल्दी पाउडर का सेवन करना चाहिए |

 

हल्दी के फायदे हैं गठिया में उपयोगी

जैसा कि हम सभी जानते ही हैं की गठिया एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है | इससे बचने के लिए हल्दी काफी हद तक हमारे लिए फायदेमंद साबित हुई है क्योंकि हल्दी में निहित उत्कृष्ट एंटी इन्फ्लेमेटरी * ओस्टियोआर्थराइटिस और रूमेटाइड गठिया दोनों के इलाज में काफी उत्तम मानी जाती है | इन सभी गुणों के अलावा हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट गुण शरीर में फ्री रेडिकल्स को खत्म कर देती है | जो शरीर को क्षति पहुंचा सकते हैं | यह पाया गया है कि रूमेटाइड संधि शोथ से पीड़ित लोग जो हल्दी का नियमित आधार पर सेवन करते हैं उन्हें इसकी वजह से जोड़ों के दर्द और साथ ही सूजन से भी हल्की सी राहत महसूस हुई है |

 

हल्दी के आयुर्वेदिक गुण करें कैंसर से शरीर का बचाव

जैसे की हम बात करने जा रहे हैं कैंसर के बारे में जो कि एक बेहद ही खतरनाक बीमारी है | लेकिन हल्दी हमारे शरीर का कैंसर से काफी हद तक बचाव करती है | क्योंकि हल्दी में मौजूद करक्यूमिन शरीर में कैंसर के विकास को रोकता है | एक अध्ययन के अनुसार पाया गया है कि करक्यूमिन कैंसर से लड़ता है और कीमोथेरेपीके प्रभाव को भी बढ़ाने में मदद करता है | हल्दी काली मिर्च के साथ मिलाने पर और भी ज्यादा प्रभावशाली हो जाती है | इसी के साथ कहीं पशुओं पर किए गए अध्ययन के मुताबिक, हल्दी में शामिल करक्यूमिन कैंसर कोशिकाओं के विकास को काफी हद तक कम कर देता है और ट्यूमर के विकास को भी रोक देता है |

हल्दी प्रोस्टेट कैंसर को रोकने में काफी हद तक फायदेमंद है और इसी के साथ साथ वह मौजूद प्रोस्टेट कैंसर के विकास को भी रोकने में काफी हद तक सहायक माना जाता है | हल्दी में मौजूद आयुर्वेदिक गुण कैंसर की कोशिकाओं को नष्ट करने में काफी हद तक सक्षम होते हैं |

 

मधुमेह को नियंत्रित करने में हल्दी के फायदे

मधुमेह को नियंत्रित करने में हल्दी का भी हद तक मदद करती है |हल्दी को मधुमेह के इलाज में इंसुलिन के स्तर को कम करने के लिए प्रयोग किया जाता है | यह गुरुकुल के सत्र को नियंत्रित करती है और मधुमेह के इलाज में इस्तेमाल की जाने वाली दवाइयों के असर को भी बढ़ा देती है | एक विज्ञानिक समीक्षा के दौरान पाया गया है कि करक्यूमिन रक्त में ग्लूकोज के स्तर को कम कर सकता है | जोकि डायबिटीज को रोकने में काफी हद तक फायदेमंद होता है | हिंदी टाइप टू डायबिटीज की शुरुआत को रोक सकती है | लेकिन दवाइयों के साथ प्रयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से सवाल है इसके बारे में |

 

कोलेस्ट्रोल को कम करने में भी है हल्दी फायदेमंद

जैसा कि हम सभी जानते ही हैं कि कोलेस्ट्रोल बढ़ने के कारण ही हमें दिल की काफी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं | अगर हल्दी को एक भोजन के रूप में इस्तेमाल करने से कोलेस्ट्रोल का सदर कम हो जाता है | यह ज्ञात तथ्य है कि  अधिक कोलेस्ट्रॉल अन्य गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकता है | इसलिए कोलेस्ट्रोल का सत्र उचित बनाए रखने के लिए हमें हल्दी का सेवन काफी फायदेमंद है | हल्दी कोलेस्ट्रोल के सत्र को नियंत्रण में रखती है जिससे कि हमारा शरीर दिल की गंभीर बीमारियों से बचा रहता है |

 

हल्दी दूध पीने के फायदे

जैसा कि हम सभी जानते ही हैं कि हल्दी वाला दूध पीने से हमारे शरीर की एबिलिटी काफी हद तक बढ़ जाती है | हल्दी में लाइपोपालीशकराइड पदार्थ होता है, जो शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है | इसके जीवाणु रोधी, एंटीवायरल और एंटीफंगल एजेंट भी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में सहायक होते हैं | यदि आप सर्दी खांसी और फ्लू से पीड़ित है, तो आप एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी पाउडर को मिलाकर दिन भर में एक बार पी सकते हैं इससे आपको जल्दी ही बेहतर महसूस होने लगेगा |

 

हल्दी का सेवन करे घाव को जल्दी भरने में मदद

हल्दी एक प्राकृतिक जीवाणु ओदी एजेंट है और इसे संक्रमण की रोकथाम के रूप में इस्तेमाल भी किया जाता है |यदि आप की तो अच्छा चल रही है या फिर कहीं से कट गई है तो आप उसके उपचार के लिए प्रभावी क्षेत्र पर हल्दी पाउडर लगा सकते हैं इससे हल्दी सती का त्वचा की मरम्मत करने में काफी हद तक मदद करती है | हल्दी के फायदे में एक यह भी काफी फायदेमंद उपाय है कि अगर आपकी त्वचा पर कहीं सूजन संबंधी या किसी तरह का अधिकार है तो आप उसके इलाज के लिए भी हल्दी का प्रयोग कर सकते हैं | हल्दी से आप सोर्सेज नामक जो कि बहुत ही खतरनाक बीमारी है उसके प्रभाव को भी काफी हद तक कम कर सकते हैं | और हल्दी एक बहुत ही अच्छा एंटीऑक्सीडेंट भी है |

 

वजन कम करने में सहायक

कुछ लोगों को परेशानी होती है कि उनका वजन ज्यादा बढ़ जाता है और कुछ लोगों को परेशानी होती है कि उनका वजन बहुत ही कम होता है | तो इन दोनों के लिए हल्दी पाउडर काफी हद तक फायदेमंद होता है क्योंकि हल्दी पाउडर शरीर के वजन को बनाए रखने में बहुत मददगार होता है | यह हमारे शरीर के वजन को नियंत्रण में रखता है ना उसको ज्यादा घटने देता है है और ना ही बढ़ने देता है | हल्दी में मौजूद एक घटक पित्त के प्रवाह को बढ़ाने में मदद करता है जो आहार से वसा को तोड़ने में एक महत्वपूर्ण भूमिका का काम करता है | यदि आपको कोई भी वजन संबंधी समस्या है तो आप प्रत्येक भोजन के साथ हल्दी पाउडर के एक चम्मच का सेवन कर सकते हैं |

 

अल्जाइमर रोग से बचाव

जैसा कि हम सभी जानते ही हैं हल्दी में करक्यूमिन के अलावा एक और महत्वपूर्ण घटक होता है जिसे टरमरोन कहते हैं |एक रिसर्च में यह पाया गया है कि यह योगिक मस्तिष्क की कोशिकाओं की मरम्मत करने में काफी हद तक मदद करता है | और इसी के साथ-साथ यह स्ट्रोक और अल्जाइमर रोग जैसे न्यूरोडेजेनरेटिव बीमारियों को रोकने मैं भी मदद कर सकता है | एक अध्ययन के द्वारा यह भी पाया गया है कि करक्यूमिन जाई मा रोग में समृति के सुधार में भी काफी मदद कर सकता है |

 

मस्तिष्क की सूजन अल्जाइमर रोग जैसे गंभीर रोग के प्रमुख लक्षण हैं | हल्दी मस्तिष्क में ब्लॉक के गठन को हटाने और ऑक्सीजन के प्रवाह को सुधारने में सहायता करते हुए पूरे मस्तिष्क से स्वास्थ्य का समर्थन करती है | यह अल्जाइमर रोग की गति को धीमा कर सकती है या फिर उस पर रोक भी लगा सकती है |

 

पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में हल्दी के फायदे

जैसा कि हम जानते ही हैं कि हल्दी एक बहुत ही आम जड़ी बूटी है जो कि हर घर की रसोई में उपलब्ध होती है | लेकिन ज्यादातर लोग उसके फायदे के बारे में नहीं जानते | हल्दी हमारे पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में काफी हद तक मदद करती है क्योंकि हल्दी में कई प्रमुख घटक पित्त का उत्पादन करने के लिए पित्ताशय को उत्तेजित करते हैं | जिससे पाचन तंत्र में सुधार होता है और ब्लाटिंग और गैस के लक्षणों को काफी हद तक कम करता है | सभी के अलावा हल्दी में अल्सरेटिव बृहदांत्र शोथ सहित आंतों के अधिकांश रोगों के उपचार के लिए उपयोगी होती है | लेकिन हमें यह ध्यान रखना जरूरी है कि किसी भी प्रकार की पित्ताशय की बीमारी से पीड़ित लोगों को हल्दी का आहार पूरक के रूप में नहीं लेना चाहिए क्योंकि यह स्थिति को खराब कर सकती है | पाचन समस्या से पीड़ित होने पर कच्चे रूप में हल्दी का सेवन करना सर्वोत्तम माना जाता है |

 

लीवर का संरक्षण मैं भी हल्दी फायदेमंद

हल्दी एक तरह का प्राकृतिक लीवर डिटॉक्स फायर है | लिवर एंजाइम ओ का उत्पादन करके रक्त को साफ करने का काम करता है और हल्दी इन महत्वपूर्ण लाइनों के उत्पाद को बनाती है | यह महत्वपूर्ण जॉइन शरीर में विषैले पदार्थों को तोड़ कर उनकी मात्रा को कम कर देते हैं और माना जाता है कि हल्दी रक्त परिसंचरण को बेहतर बनाने में भी काफी हद तक फायदेमंद है | और इन सभी कारक को के द्वारा लीवर के स्वास्थ्य को अच्छा रखने में काफी हद तक मदद मिलती है |

 

जाने :-

जाने :-

 

तो दोस्तो आज हमने बात की है हल्दी के फायदे के बारे में | अगर आपके पास इस टॉपिक से संबंधित कोई भी जानकारी है या फिर आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप टिप्पणी करके हमें जरूर बताइए | और यदि हमारी यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर कीजिए |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Health Lover © 2018